Azab Gazab India

जयपुर से जुड़े गज़ब रोचक तथ्य | Amazing & Interesting facts about jaipur in hindi | Pinkcity Jaipur

राजस्थान की राजधानी ‘जयपुर’ गुलाबीनगरी विश्व प्रशिद्ध शहर हे। जयपुर में कई पर्यटन स्थल हैं, और हर एक जगह से कोई ना कोई कहानी जुडी हुई हैं। यहां के महल और किले आज भी यहां के योद्धाओ की वीरता की कहानी बताते हैं। आज हम आपको ऐसी ही जयपुर से जुड़ी गज़ब रोचक जानकारियाँ उपलब्ध करवा रहे Gazab 15 amazing Facts about Jaipur in Hindi । 

Interesting facts about jaipur in hindi

1. महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने 18 नवंबर 1727 को जयपुर शहर की स्थापना की थी। 

Advertisement

2. शानदार महलों ओर भवनों वाले इस शहर को बनाते समय इसमें आवागमन के लिए 7 प्रवेश द्वार बनाए गए थे। बता दें कि जयपुर शहर जहां बसा हुआ है, वहां कभी 6 गांव हुआ करते थे।

3. जयपुर शहर के मुख्य बाजार त्रिपोलिया बाजार में सड़क की चौड़ाई 110 फीट हे।  तो वहीं हवामहल के पास ड्योढ़ी बाजार की 105 फीट की सड़क बनाई गई हे । जौहरी बाजार दुकानों के बरामदे से जौहरी बाजार की सड़क की चौड़ाई 90 फीट से ज्यादा रखी गई। वहीं पास के चांदपोल बाजार की सड़क 94 फीट चौड़ी बनाई गई।

4. जब जयपुर शहर को बसाया गया था उस समय यह  प्रथम नगर था जो योजनाबद्ध ढ़ंग से बसाया गया था। इसका ख़ाका तैयार किया था वास्तु शिल्पी विद्याधर भट्टाचार्य ने।

5. जयपुर शहर को ‘गुलाबी नगरी’ नाम से भी जाना जाता हे। गुलाबी रंग मेहमानों के आदर सत्कार का प्रतीक है इसलिये जब 1876 में प्रिंस ऑफ वेल्स के जयपुर आने की सूचना मिली तो उनके स्वागत में महाराजा सवाई मानसिंह ने पूरे शहर को गुलाबी रंग पुतावा दिया था। तभी से इस शहर का नाम { Pink Sity} गुलाबी नगरी पड़ा।

15-amazing-facts-about-jaipur-in-hindi

Advertisement

 

Unknown facts about jaipur in hindi

6. जयपुर में पर्यटन स्थलों की भरमार हे, जिनमे प्रमुख आमेर किला, जयगढ़, हवामहल, नाहरगढ़, जंतर-मंतर, जल-महल, सिटी पैलेस, गलता जी तीर्थ, गैटोर आदि हे।

7. हवा महल जयपुर का प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल है। महाराजा सवाई प्रताप सिंह ने इस महल को 1799 में बनवाया था । हवा महल में कुल 953 खिड़कियाँ बनाई गई थी, ताकि हवा आसानी से आ – जा सके इसलिए ये महल विश्व भर में हवा महल के नाम से जाना जाता है।

8.जयपुर में सिटी पैलेस प्रसिद्ध स्थान है। इसका निर्माण सवाई जय सिंह द्वितीय ने 1729 से 1732 ई. वी. के मध्य करवाया था । इस महल परिसर में देखने योग्य बहुत – सी जगह है जिनमे प्रमुख है जैसे –   चन्द्र महल, प्रीतम निवास चौक, दीवान-ए-खास, दीवान-ए-आम, महारानी पैलेस, भग्गी खाना, गोविन्द देव जी मंदिर और मुबारक महल आदि है।

9. भगवान कृष्ण का जयपुर में सबसे प्रसिद्ध बिना शिखर का मंदिर। यह चन्द्र महल के पूर्व में बने जन निवास बगीचे के मध्य अहाते में स्थित है। संरक्षक देवता गोविंदजी की मुर्ति पहले वृंदावन के मंदिर में स्थापित थी जिसको सवाई जय सिंह द्वितीय ने अपने परिवार के देवता के रूप में यहाँ पुनः स्थापित किया था।

Advertisement

10. जंतर मंतर विश्व की सबसे बड़ी वेधशाला है। इसका निर्माण महाराजा जय सिंह द्वितीय के समय में कराया गया था । धुपघड़ी वेधशाला, यहाँ खगोलीय वेधशाला दुनिया की सबसे बड़ी वेधशाला में से है।

जयपुर से जुड़े गज़ब रोचक तथ्य

11. नाहरगढ़ किले से पूरा जयपुर शहर दिखाई देता हे। इस किले का निर्माण 1734 में करवाया गया था। फिल्म ‘रंग दे बसंती’ और शुद्ध देशी रोमांस, फिल्म के लिए भी सीन को यहाँ फिल्माया गया है।

12. जयपुर स्थित चांदपोल, सूरजपोल, अजमेरी गेट, सांगानेरी गेट, छोटी चौपड़, बड़ी चौपड़, चौड़ा रास्ता सभी एक दूसरे से चोरस रास्तो से जुड़े हुवे है।

13. जयपुर जू को 1877 ईस्वी में बनाया गया । इसको 2 जगहों पर विभाजित किया गया है । क्योंकि इसमें एक भाग में पक्षियों को रखा गया है जो जयपुर सिटी के अंदर है और दूसरा आमेर किले के पास है दूसरे में जानवरो को रखा जाता है। यहाँ दुनिया भर में पाई जाने वाली 50 से भी ज्यादा पशु पक्षियों की प्रजाति देखने को मिलती है। यहां कम से कम जानवरो की 550 प्रजाति देखने को मिलती है । भारत के सबसे बड़े चौथे घड़ियाल प्रजनन की स्थापना वर्ष 1999 में की गई थी ।

14. जयपुर की प्रसिद्ध (ईसर लाट) त्रिपोलिया बाजार के पशिचमी किनारे पर क्षितिज को छूती उच्चतम इमारत हे।  जिसका निर्माण ईसवी सन् 1749 में सवाई ईश्वरी सिंह ने महान विजय को मनाने के लिए किया था।

15. जयपुर के आमेर किले में हाथी की सवारी की जाती हे। जो पर्यटक में बहुत ज्यादा प्रसिद्ध हे।

यह भी पढ़े 

10 रोचक जानकारियाँ India’s First When And How 

मेहरानगढ़ किले का इतिहास

Note : आशा करते हे आपको हमारी पोस्ट जयपुर के रोचक तथ्यों की जानकारी और फैक्ट्स पसंद आई होगी। अगर आपको हमारी Amazing Facts About Jaipur In Hindi लेख अच्छा लगे तो जरुर हमें Facebook पे Like और Share कीजिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close